Fixed Deposit एफडी के बारे जाने सब कुछ

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम जानेगे Fixed Deposit यानि की एफडी  क्या होती है कैसे कराई जाती है और इससे पैसे आप कैसे डबल कर सकते हैं। तो चलिए शुरू करते हैं।

एफडी || Fixed Deposit क्या होता है ?

सबसे पहले हम बात करते हैं कि एफडी होती क्या है, एफडी का मतलब होता है फिक्स डिपॉजिट जब भी कोई भी पर्सन किसी भी बैंक में एक फिक्स टाइम के लिए कुछ पैसा जमा करता है तो उसे एफडी कहा जाता है।

एफडी में जो भी पैसा जमा किया जाता है उस पर बैंक सेविंग अकाउन्ट से ज्यादा इंट्रेस्ट यानी ब्याज देते हैं जैसे की सेविंग अकाउन्ट में 3% से लेकर 6% तक का इंटरेस्ट दिया जाता है जबकि एफडी अकाउंट पर 7% से लेकर 9% तक का इंटरेस्ट दिया जाता है।

आजकल लगभग सभी बैंक एफडी की फैसिलिटीज देते हैं जैसे की स्टेट बैंक SBI Bank, BOB Bank, HDFC Bank, Axis Bank, ICICI Bank, PNB Bank, IDBI Bank, Yes Bank और भी कई बैंक में एफडी की फसिलिटी अवेलेबल है, आप एफडी अकाउंट ओपन करा सकते है।

Fixed Deposit एफडी अकाउंट कैसे खोले:-

चलिए हम बात करते है की एफडी अकाउंट कैसे ओपन कराए एफडी अकाउंट आप ऑनलाइन या ऑफलाइन ओपन करा सकते हैं। ऑफलाइन ओपन करने के लिए आपको किसी भी बैंक की ब्रांच जाना होगा।

वहाँ आपको एक फॉर्म मिलता है, वो फॉर्म फील करके आपको बैंक में जमा करना होता है और आपका एफडी अकाउंट ओपन हो जाता है। आप नेट बैंकिंग यूज़ करके एफडी अकाउंट ऑनलाइन भी ओपन कर सकते हैं ऑनलाइन कैसे ओपन करना है ऑनलाइन कैसे ओपन करना है उसके लिए आप यह विडियो विडियो देखे।

एफडी Fixed Deposit अकाउंट के फायदे :-

 एफडी कराने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें आपका इन्वेस्टमेंट 100% सिक्योर रहता हैं, इसमें रिस्क का कोई चांस नहीं रहता है। ये किसी भी तरह से लिंक नहीं होता है।

जैसे ही आपकी एफडी का टाइम पीरियड पूरा होता है वो मैच्योर होती है, तो प्रिन्सिपल प्लस इंट्रेस्ट अमाउंट आपके बैंक अकाउन्ट में क्रेडिट कर दिया जाता है।

 दूसरा प्लस पॉइंट इसका ये है की इसमें आपको सेविंग अकाउन्ट से ज्यादा इंट्रेस्ट रेट दिया जाता है। इसका माइनस पॉइंट ये है की अगर आप एफडी को मैच्योर होने से पहले ही उसका टाइम पूरा होने से पहले ही अगर आप तोड़ देते हैं उससे पैसे निकाल लेते हैं तो आपको हाँ इंटर नहीं मिलता है

चलिए हम बात करते है की एफडी से आप अपने पैसों को डबल कैसे कर सकते हैं। जैसे की मैने आपको बताया कैफ डी में आपको इंटरेस्ट मिलता है और इन्ट्रेस्ट से ही आपके पैसे बढ़ते हैं और उसी से डबल होते है।

आपका पैसा कितने दिनों में डबल होगा, ये आपके बैंक पर डिपेंड करता है की वो आपको कितना इंटरेस्ट रेट दे रहा है। आपका बैंक आपको जो भी इंटरेस्ट रेट दे रहा है उसे आपको 72 से भाग देना है। जो भी रिज़ल्ट आता है उतने ही साल तक अगर आप एफडी करते हैं तो उसमें आपका पैसा डबल हो जाता है।

 जैसे की अगर आपका बैंक आपको 9% इन्ट्रेस्ट दे रहा है तो आप 72 को भाग देंगे तो इसमे जो भी रिज़ल्ट आएगा उतने ही सालों में आपका पैसा डबल हो जाएगा। देखिए अगर आपका बैंक आपको 9% इन्ट्रेस्ट दे रहा है तो आपका पैसा 8 साल में डबल हो जाएगा जैसे की अगर आप ₹5,00,000 एफडी करते हैं, तो 8 साल बाद आपको ₹10,00,000 मिलेंगे।

मान लीजिए आप ₹5,00,000 की एफडी कर रहे हैं और आपका बैंक आपको 9% इन्ट्रेस्ट दे रहा है। 8 साल के लिए तो आपको टोटल ₹10,19,000 मिलते है। इसमें आपका इंटरेस्ट होता है ₹5,19,000 और आपका इन्वेस्टमेंट होता है। ₹5,00,000 का तो इससे आप समझ सकते हैं कि आपका पैसा कितने दिनों में डबल हो जाएगा।

Fixed Deposit अकाउंट के नुकसान:-

 जैसे की मान लीजिए आपने 5 साल के लिए एक एफडी कराई और अगर आप उसे छे महीने में ही तोड़ देते हैं तो बैंक आपसे कुछ पेनल्टी वसूल करता है और आपको इंटरेस्ट भी काफी कम देता है।

दूसरा माइनस पॉइंट एफडी का यह है कि अगर आप 1 साल में अपनी एफडी से ₹10,000 से ज्यादा इन्ट्रेस्ट कमाते हैं तो उस पर आपको 10% का टैक्स देना होता है। एफडी आप किसी भी फाइनैंशल इंस्टिट्यूशन, बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस मैं ओपन करा सकते है।

बैंक में आपका 100% पैसा सिक्योर नहीं होता है। बैंक में आपके जीतने भी पैसे जमा होते हैं। उसमें से सिर्फ 1,00,000 रुपये की सरकार की गारंटी होती है।

अगर बैंक का दिवालिया हो जाता है तो आपको ₹1,00,000 रिटर्न मिलने की गारंटी है और बाकी का पैसा आपका लॉस हो जाता है तो इसी तरह से अगर आप किसी बैंक में ₹5,00,000 की एफडी करा रहे हैं तो, उसमें आपके ₹1,00,000 सिक्योर होते हैं जबकि अगर उस बैंक का दिवाला निकल जाता है तो आपको बाकी के पैसे नहीं मिलेंगे।

इसका सॉल्यूशन ये है की अगर आप ₹1,00,000 से ज्यादा की एफडी करा रहे हैं तो आप किसी एक बैंक में न कराकर चार पांच अलग अलग बैंक में करिए। इसका एक फायदा तो आपको ये होगा कि आपका पैसा पूरी तरह से सिक्योर रहेगा।

दूसरा फायदा ये होगा की अगर आपको कभी पैसों की जरूरत पड़ेगी तो आपको सभी एफडी तोड़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी। आप किसी एक एफडी को तोड़कर उससे अपना काम चला सकते हैं।

दोस्तों में उम्मीद करता हु की आप समज गए होंगे एफडी क्या होती है, कैसे कराई जाती है और इससे आप अपना पैसा कैसे डबल कर सकते हैं। अगर आपको आर्टिकल पसंद आया है तो लाइक करिये अपने फ्रेंड के साथ शेयर करिए और अगर आपके मन में कोई प्रशन या सुजाव है तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।  

Leave a Comment